एन.सी.पी.सी.आर. द्वारा बच्चों के लिए समर्पण कार्यक्रम

0
408

भोपाल

राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग द्वारा ''बच्चों के लिए समर्पण'' कार्यक्रम की शुरूआत की है। इसमें ऐसे बच्चों की वित्तीय सहायता की जायेगी, जिन्होंने कोरोना महामारी के कारण अपने माता-पिता में से किसी एक को या दोनों को खो दिया है।

बच्चों के लिए समर्पण कार्यक्रमों में अपर मुख्य सचिव महिला बाल विकास श्री अशोक शाह के नेतृत्व में 4 अक्टूबर को ऑनलाइन माध्यम से इस कार्यक्रम को लॉन्च किया गया। आयोग के अध्यक्ष श्री प्रियंक कानूनगों ने बताया कि ''बच्चों लिए समर्पण'' कार्यक्रम की शुरूआत मध्यप्रदेश के तीन जिलों विदिशा, रायसेन और सीहोर से की गई है। भविष्य में इसका विस्तार किया जायेगा। उन्होंने बताया कि वेदांतु इनोवेशन लिमिटेड द्वारा प्रदेश के तीन जिलों के आयोग द्वारा चिन्हित 83 बच्चों को निजी स्पॉन्सरशिप के अन्तर्गत बच्चों एवं उनके संरक्षकों के खातों में प्रति बच्चा प्रति माह दो हजार रूपये के मान से एक लाख 66 हजार रूपये की प्रथम किश्त आंतरित की गई।

कोविड-19 की महामारी से बच्चें प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से प्रभावित हुए हैं। आयोग द्वारा ऐसे सभी बच्चों का डाटा एकत्र किया गया है जो असुरक्षित हो गए है, जिन्हें देखभाल और सुरक्षा की जरूरत है तथा जिन्होंने अपने एकल या माता-पिता दोनों को कोविड-19 या मार्च 2020 के बाद किसी अन्य कारणों से खो दिया है। उन्हें लाभ पहुँचाने के लिए अशासकीय संगठनों को भी जोड़ा गया है।

वेदांतु इनोवेशन लिमिटेड के संस्थापक श्री पुलकित जैन ने तीन जिलों के 53 बच्चों को न सिर्फ आर्थिक सहायता दी बल्कि उनके निरंतर संपर्क में रहकर उनके समग्र विकास की दिशा में कार्य करने के लिए प्रतिबद्धता व्यक्त की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here