दिल्ली जेल में खूनी गैंगवार की आशंका, रद्द हुईं जेल अधिकारियों की छुट्टियां, डीजी ने की बैठक

0
839

 नई दिल्ली 
रोहिणी कोर्ट रूम में गैंगस्टर जितेंद्र गोगी की हत्या के बाद तिहाड़ जेल में गोगी और टिल्लू गैंग के बीच कभी भी खूनी गैंगवार की आशंका जताई जा रही है। जेल के उच्च पदस्थ सूत्रों का कहना है कि जेल में दोनों गैंग के 60 बदमाश हैं जो कभी भी भिड़ सकते हैं। ऐसे में जेल अधिकारियों की छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं और सभी को बेहद सतर्क रहने के लिए कहा गया है। 

उधर, सुरक्षा के मद्देनजर डीजी ने शनिवार को जेलों का जायजा लिया और अधिकारियों के साथ बैठक की। सूत्रों ने बताया कि डीजी संदीप गोयल ने सभी जेल अधीक्षकों को अपनी जेलों में बंद गोगी और टिल्लू के गैंग सदस्यों की सूची तैयार करने को कहा है। टिल्लू इस समय मंडोली जेल में है लेकिन उसके गैंग के सदस्य मंडोली के साथ ही तिहाड़ और रोहिणी जेल में भी बंद हैं। 

इसी तरह गोगी गैंग के साथी भी विभिन्न जेलों में हैं। ऐसे में उनके बीच कभी भी एक-दूसरे पर हमला करने का अंदेश बना हुआ है। इस बात से जेल अधिकारी भी इनकार नहीं कर रहे हैं कि दोनों गैंग के बीच जेल और उसके बाहर गैंगवार की घटना को अंजाम दिया जा सकता है।

 
रोहिणी कोर्टरूम में हुए गैंगवार में मारा गया गैंगस्टर जितेंद्र मान गोगी लॉरेंस विश्नोई और काला जठेडी से हाथ मिला चुका था। वहीं, उसके विरोधी टिल्लू को नीरज बवानिया का साथ मिला हुआ है। ऐसे में पुलिस इन सभी गैंगस्टर पर कड़ी नजर रख रही है। सूत्रों का कहना है कि तीन दिन पहले ही लॉरेंस विश्नोई को राजस्थान पुलिस प्रोडक्शन वारंट पर राजस्थान ले गई है। वहीं, काला जठेड़ी इन दिनों पुलिस हिरासत में गुरुग्राम पुलिस के पास है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here