अफगान संकट : कट्टरपंथी ताकतें वैधता पाने की कर रहीं कोशिश : राजनाथ

0
100

नई दिल्ली
अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद पैदा हुए मानवीय संकट के बीच भारतीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को कहा कि कट्टरपंथी ताकतें नए मानदंड बनाकर वैधता हासिल करने का प्रयास कर रही हैं। रक्षा मंत्री ने आगे कहा कि अफगानिस्तान के घटनाक्रम ने सत्ता की राजनीति की भूमिका और राज्य के ढांचे और व्यवहार बदलने के उपकरण के रूप में आतंकवाद के उपयोग पर सवाल खड़े किए हैं। रक्षा मंत्री नेशनल डिफेंस कॉलेज (एनडीसी) के दीक्षांत समारोह में बोल रहे थे। उन्होंने कहा "दुनिया आज आतंक के अस्थिर प्रभावों और हिंसक कट्टरपंथी ताकों की विशेष रूप से खतरनाक मिसाल की गवाह है, जो नए मानदंड बनाकर वैधता हासिल करने का प्रयास कर रहे हैं।

रक्षा मंत्री ने आगे कहा "अफगानिस्तान में हाल की घटनाओं ने हमारे समय की वास्तविकता को उजागर किया है। इस क्षेत्र की भू-राजनीति में एकमात्र निश्चितता यह है कि कुछ भी निश्चित नहीं है। राज्य की सीमाओं में परिवर्तन आज उतनी बार नहीं हो सकता है जितना किसी समय में हुआ करता था। फारूक अब्‍दुल्‍ला बोले- अफगानिस्तान में हमारे अरबों डॉलर लगे, तालिबान से बातचीत में हर्ज नहीं रक्षा मंत्री ने कोरोना काल में एनडीसी के काम की सराहना करते हुए कहा कि इसके छात्रों ने कोविड महामारी के बावजूद चुनौतियों को अवसरों में बदल दिया। उन्होंने कहा "नेशनल डिफेंस कॉलेज ने रणनीतिक मामलों की समझ को बढ़ावा देने में महत्वपूर्ण निभाई है। हम ज्ञान प्राप्त करने की खोज को सुविधाजनक बना सकते हैं। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here