न्यूजीलैंड के बाद अब इंग्लैंड ने भी पाकिस्तान का अपना दौरा रद्द किया 

0
120

नई दिल्ली
पाकिस्तान क्रिकेट के सामने एक और मुश्किल आ गई है। इंग्लैंड ने अक्टूबर में होने वाले अपने महिला और पुरुष टीम के पाकिस्तान दौरे को फिलहाल टाल दिया है। इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड ने सोमवार (20 सितंबर) को इसकी जानकारी दी। इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) इस सप्ताहांत विचार विमर्श करने के बाद दौरा रद्द करने का फैसला किया। यह इंग्लैंड का 2005 के बाद पहला पाकिस्तान दौरा होता। तीन दिन पहले न्यूजीलैंड ने पाकिस्तान के खिलाफ अपनी सीमित ओवरों की सीरीज आखिरी समय पर रद्द कर दी थी। टीम ने सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए मैदान पर उतरने से ही इनकार कर दिया था। ईसीबी की ओर से जारी बयान में कहा गया है, 'इस साल की शुरुआत में हमने टी20 वर्ल्ड कप से पहले तैयारियों के लिए पाकिस्तान में मैच खेलने की हामी भरी थी। इसके अलावा महिला टीम को भी पुरुष टीम के साथ पाकिस्तान का दौरा करना था।' ईसीबी ने कहा, 'ईसीबी ने इस सप्ताहंत बैठक की और यह फैसला किया कि महिला और पुरुष टीम के अक्टूबर में पाकिस्तान दौरे से हटने का फैसला किया है।' 

न्यूजीलैंड ने जब सुरक्षा कारणों से अपना दौरा रद्द किया था उसके बाद ही इंग्लैंड के दौरे पर भी सवाल उठने लगे थे। इस वीकएंड हुई बैठक में ईसीबी ने फैसला लिया कि टीमें पाकिस्तान का दौरा नहीं करेंगी। बोर्ड ने खिलाड़ियों और सपॉर्ट स्टाफ के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को प्राथमिकता देते हुए यह फैसला किया है। कोरोना और बायो-बबल के माहौल के चलते खिलाड़ियों के स्वास्थ्य पर काफी बुरा असर पड़ रहा है। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने नव नियुक्त अध्यक्ष रमीज राजा ने ईसीबी के फैसले पर निराशा व्यक्त की। राजा ने ट्वीट किया, ‘इंग्लैंड का अपनी प्रतिबद्धता से हटने और अपने क्रिकेट समुदाय के एक सदस्य से वादा पूरा न करने से निराश हूं जबकि इस समय हमें इसकी सबसे अधिक जरूरत थी।’ इंग्लैंड के क्रिकेट बोर्ड की ओर जारी बयान में कहा गया, 'हमारे खिलाड़ियों और सपॉर्ट स्टाफ का मानसिक स्वास्थ्य हमारे लिए हमेशा शीर्ष प्राथमिकता बना रहेगा। और मौजूदा परिस्थितियों में यह और भी अधिक महत्वपूर्ण हो जाता है। हमें पता है कि इस इलाके में जाने को लेकर काफी चिंताएं हैं और हमें लगता है कि अगर हम इस दौरे पर जाते हैं तो दल पर और अधिक दबाव पड़ेगा। वे पहले से ही नियंत्रित कोरोना माहौल में रहकर काफी दबाव में हैं।'

बोर्ड को यह भी लगता है कि यह दौरा टी20 वर्ल्ड कप के लिए सही तैयारी नहीं होता। वर्ल्ड कप की शुरुआत 14 अक्टूबर से ओमान और यूएई में हो जाएगी। ईसीबी ने कहा, 'हम समझते हैं कि यह फैसला पीसीबी के लिए बहुत निराशा लेकर आया होगा। पीसीबी अपने देश में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी को लेकर अथक कोशिश कर रहा है। इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड को उन्होंने बीते दो सीजन में समर्थन दिया वह दोस्ती का बहुत बड़ा सबूत है। पाकिस्तान पर पड़ने वाले इसके असर के लिए हम दिल से माफी मांगते हैं और 2022 के अपने मुख्य दौरे की प्रतिबद्धता पर जोर देते हैं।' साल 2009 में पाकिस्तान के शहर लाहौर में श्रीलंका की टीम बस पर आतंकी हमला हुआ था। इसके बाद से विदेशी टीमें पाकिस्तान के दौरे पर जाने से कतराती रही हैं। इस हमले में छह पुलिसकर्मी और दो नागरिक मारे गए थे।
 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here