हितग्राहियों के घर पहुँचकर एसीएस कंसोटिया ने ली कड़कनाथ पालन की जानकारी

0
65

भोपाल

अपर मुख्य सचिव पशुपालन एवं डेयरी जे.एन. कंसोटिया ने मेघनगर के विभिन्न गाँवों में हितग्राहियों के घर पहुँचकर कड़कनाथ चूजा़ प्रदाय योजना की प्रत्यक्ष जानकारी ली। कंसोटिया को ग्राम गुडा में हितग्राही सुनीता ने बताया कि उन्हें 50 चूजे़ मिले हैं, जिनमें से 7 की मृत्यु हो गयी है, लेकिन बाकी सभी स्वस्थ हैं और लगभग 2 माह के हो गये हैं।

सुनीता ने कहा कि कड़कनाथ की देशी मुर्गे की तुलना में अधिक माँग और कीमत होने से हमें अच्छी आय हो रही है। नि:शुल्क चूज़ों के पालन के बाद अधिक लाभ को देखते हुए मैंने कृषि विज्ञान केन्द्र में स्वयं के व्यय पर कड़कनाथ चूजा़ खरीदने के लिये भी राशि जमा कराई है। कंसोटिया ने सुनीता के घर पर एनएडीसीपी राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम के तहत एक भैंस और 4 गौ-वंश के कानों में यूनीक आई-टेग लगाने की प्रशंसा की। कंसोटिया ने कहा कि सभी गाँव वालों को जागरूक करें कि वे मवेशियों में आई-टेग जरूर लगवाएँ।

अन्य हितग्राही लालू वीरसिंह के कुक्कुट शेड का भी कंसोटिया ने निरीक्षण किया। वीरसिंह ने बताया कि उन्हें योजना में 50 कड़कनाथ चूजे़, 30 किलो कुक्कुट आहार और दाना-पानी के बर्तन नि:शुल्क प्राप्त हुए हैं। इनमें से 44 चूज़े स्वस्थ हैं और अच्छी वृद्धि हो रही है। उन्होंने कहा कि फायदे का धन्धा होने के कारण वह और उनका परिवार कड़कनाथ पालन में वृद्धि करने की योजना बना रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here