भारत बंद: राज्य में भारी बारिश ने बंद पर फेरा पानी, कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन

0
108

हैदराबाद
कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग को लेकर आज किसान संगठनों की ओर से भारत बंद किया गया है। भारत बंद का असर देश के कई हिस्सों में दिख रहा है, लेकिन आंध्र प्रदेश में इसका असर नहीं दिख  रहा है। राज्य में आज सुबह से भारी बारिश हो रही है। भारी बारिश की वजह से यहां पर बंद का असर नहीं दिख रहा है। लोग घरों से बाहर निकलने में असमर्थ हैं।

संयुक्त किसान मोर्चा के नेतृत्व में कृषि कानूनों के विरोध में किसानों द्वारा भारत बंद को गैर-एनडीए दलों की ओर से भी समर्थन मिल रहा है। कांग्रेस, आम आदमी पार्टी समेत विपक्षी दलों ने दस घंटे के लिए बुलाए गए भारत बंद का समर्थन किया है। वाईएसआर कांग्रेस, सपा, राजद समेत कई अन्य राजानीतिक दलों के कार्यकर्ता दुकानें, फैक्ट्री और चक्काजाम के लिए सड़कों पर उतरे हुए हैं। संयुक्त किसान मोर्चा के तहत तकरीबन 40 किसान संगठन शामिल हैं। अलग-अलग हिस्सों में बंद का असर दिख रहा है, लेकिन दक्षिण भारत में इसका असर कुछ ही राज्यों में दिख रहा है। चक्रवात तूफान गुलाब के चलते आंध्र प्रदेश में रविवार से ही बारिश हो रही है।

आंध्र प्रदेश में वाईएसआर कांग्रेस सरकार ने भारत बंद को समर्थन किया है और आरटीसी बस सेवाओं को रोक दिया। साथ ही सोमवार को स्कूलों के लिए अवकाश घोषित कर दिया। मुख्य विपक्षी दल तेलुगु देशम ने भी कांग्रेस और वाम दलों के साथ बंद का समर्थन किया।

हालांकि, बारिश के कारण हड़ताल और रैलियों जैसी गतिविधियों को बाहर नहीं किया गया।  मौसम विभाग के मुताबिक, ओडिशा और आंध्र में आए चक्रवाती तूफान गुलाब का असर आंध्र प्रदेश पर दिख रहा है। श्रीकाकुलम के सभी तटीय जिलों में सुबह से ही भारी बारिश हो रही है। वहीं, रायलसीमा जिलों में भी चक्रवात के प्रभाव में कुछ स्थानों पर बारिश हो रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here