22 राजनीतिक दलों का अभियान शुरू, तहसील पर प्रदर्शन कर राष्ट्रपति के नाम दिया ज्ञापन

0
159

कैलारस
देश के प्रमुख 22 विपक्षी राजनीतिक दलों की ओर से जनता के विभिन्न मांगों को लेकर आज से देशव्यापी अभियान का आगाज किया गया है। इसी अनुक्रम में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस और मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी सहित कई जन संगठनों की ओर से तहसील पर प्रदर्शन कर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन दिया गया।

इस प्रदर्शन में जनता की मांगों को प्रमुखता से रखा गया। जिसमें कोरोना से मृतकों के परिवारों को आर्थिक सहायता देने, मुफ्त टीकाकरण अभियान तेज करने ,आयकर से बाहर परिवारों को ₹7500 प्रतिमाह की आर्थिक सहायता देने, डीजल पेट्रोल सहित सभी वस्तुओं की महंगाई कम करने, तीनों कृषि विरोधी कानूनों को वापिस लेने, सार्वजनिक उद्योगों का निजी करण रोकने, छोटे उद्योगों को प्रोत्साहन देने ,रोजगार पैदा करने, मनरेगा का विस्तार करने, मजदूरी दुगनी करने, शैक्षणिक संस्थाओं को तत्काल खोलने, पेगासस निगरानी की सुप्रीम कोर्ट की देखरेख में जांच कराने ,भीमा कोरेगांव सहित बंदी बनाए गए सभी राजनीतिक नेताओं, पत्रकारों को रिहा करने, दमनात्मक कानूनों को रोकने ,जम्मू कश्मीर में कैडर बहाल करते हुए, पूर्ण राज्य का दर्जा बहाल करने व चुनाव कराने सहित कई मांगे रखी गई। राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन स्थानीय तहसीलदार श्री भरत कुमार को दिया गया।

इस कार्यक्रम का नेतृत्व भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के प्रांतीय महासचिव बृजमोहन मरैया, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य सचिव मंडल सदस्य अशोक तिवारी, जिला सचिव गयाराम सिंह धाकड़, महेश प्रजापति, वरिष्ठ अभिभाषक  केएन शर्मा, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राजाराम बंसल ,साबिर खान पठान ,रफीक मोहम्मद, अजय माहोरिया ,पूर्व व्यापार मंडल अध्यक्ष राजेश गुप्ता, एसएफआई के प्रांतीय सचिव राजवीर सिंह धाकड़ ,किसान नेता सियाराम सिंह, युवा जनवादी पत्रकार नरेंद्र सिंह सिकरवार ,युवा नेता हरिओम गोयल आज उपस्थित रहे। आगे 25 सितंबर को साथी बहादुर सिंह धाकड़ की स्मृति में संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से श्रद्धांजलि कार्यक्रम रखा गया है। 27 के भारत बंद को मुकम्मल रूप से सफल बनाने के लिए ग्रामीण व नगरीय क्षेत्रों में व्यापक अभियान जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here