एसडीएम के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज

0
138

इंदौर
 लोकायुक्त पुलिस इंदौर में मध्यप्रदेश के बुरहानपुर में छापामार कार्रवाई करते हुए नेपानगर एसडीएम दीपक सिंह चौहान के कथित एजेंट सूर्यपाल सिंह को गिरफ्तार किया है। एसडीएम दीपक सिंह चौहान के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।

लोकायुक्त पुलिस इंदौर की ओर से बताया गया कि आवेदक नितिन सेन ने श्रीचंद झोले साजनी गांव तहसील खकनार से 7-8 साल पहले 3000 वर्गफीट जमीन खरीदी थी। जिसे बाद में उसके द्वारा लोन लेने के लिए अपने पिता के नाम से रजिस्ट्री कर दी गई। SDM (कार्यपालक मजिस्ट्रेट) राजस्व क्षेत्र नेपानगर दीपक सिंह चौहान द्वारा दीपक सेन को बताया गया कि उसके खिलाफ शिकायत मिली है कि उसने अनुसूचित जनजाति के व्यक्ति की जमीन को अवैधानिक तरीके से अपने नाम करा लिया गया। इस संबंध में आवेदक से प्रकरण के निराकरण के लिए 5 लाख रुपए रिश्वत के रूप में मांग की गई थी।

दीपक सिंह चौहान राज्य प्रशासनिक सेवा के खिलाफ भ्रष्टाचार की FIR
आवेदक की शिकायत के आधार पर लोकायुक्त ने रिकॉर्डिंग कराई। बातचीत के दौरान डेढ़ लाख रुपए लेन-देन तय हुआ। 50 हजार रुपए की राशि ले भी ली गई तथा बातचीत के अनुसार शेष राशि आरोपी किशन कनेश द्वारा दरियापुर निवासी सूर्यपाल सिंह को देने के लिए बताया गया। बुधवार शाम लोकायुक्त ने एसडीएम का दलाल सूर्यपाल सिंह पुत्र सुमेर सिंह को बुरहानपुर में शेष राशि 1 लाख रुपए लेते हुए पकड़ा। लोकायुक्त पुलिस ने इस मामले में एसडीएम दीपक सिंह चौहान और उनके कथित एजेंट सूर्यपाल सिंह के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here