गणेश प्रतिमाओं का अपमान करने वाले 9 आरोपितों पर केस दर्ज

0
125

इंदौर
 इंदौर की जवाहर टेकरी पर नगर निगम के कर्मचारियों द्वारा अपमानजनक तरीके से गणेश मूर्तियों के विसर्जन के मामले में 9 आरोपितों पर चंदन नगर पुलिस ने केस दर्ज किया है। आरोपितों के नाम सुपरवाईजर शैलेंद्र निम्बा सहित राजेश, मुकेश, लखन, राजू, मदन, हेमराज, सुनील, करण हैं। इस मामले में उपायुक्त अभय राजगांवकर खुद फरियादी बने हैं। सोमवार को गणेश विसर्जन का एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें नगर निगम के कर्मचारी पानी में मूर्तियों को फेंकते नजर आ रहे थे। इसके बाद पूरे शहर में इसका जमकर विरोध हो रहा था, लोग इस वीडियो के सामने आने के बाद काफी आहत थे। सांसद शंकर लालवानी ने भी इसे निंदनीय बताया और सीएम शिवराज सिंह चौहान सहित अधिकारियों से इसकी शिकायत की थी। उधर इस मामले में जोन-13 के जोनल अधिकारी बृजमोहन भगौरिया और कार्यक्रम अधिकारी शैलेष पाटोदी निलंबित, 2 सुपरवाइजर भी हटाया गया है, नगर निगम इस मामले में भी कराएगा एफआइआर।

 

जानकारी के मुताबिक नगर निगम ने रविवार को अनंत चतुर्दशी पर शहरभर से मूर्तियां इकट्ठा की थी, जिनमें से प्लास्टर आफ पेरिस की मूर्तियों को डंपरों में रखकर जवाहर टेकरी पर विसर्जन के लिए लाया गया था। इस दौरान यह बात भी सामने आई थी कि जिस पानी में मूर्तियों का विसर्जन किया गया, वह बहुत गंदा था। नगर निगम आयुक्त ने इस घटना की जानकारी लगने के बाद तुरंत अपमानजनक तरीके से मूर्तियों का विसर्जन करने वाले कर्मचारियों को हटा दिया था।

 

इंटरनेट मीडिया पर वीडियो वायरल होते ही शुरू हुआ विरोध

इंदौर में नगर निगम के कर्मचारियों द्वारा अमर्यादित तरीके से गणेश विसर्जन का वीडियो जैसे ही वायरल हुआ, इसका विरोध शुरू हो गया। दरअसल लोग अनंत चतुर्दशी के दिन नगर निगम द्वारा बनाए गए कुंडों और प्रतिमाओं के कलेक्शन सेंटर पर इस उम्मीद से गणेश प्रतिमाएं देकर आए थे कि अब नगर निगम इन्हें सही तरीके से विसर्जित करेगा। लेकिन वीडियो सामने आने के बाद लोगों की भावनाएं आहत हुई। उधर नगर निगम के अधिकारियों का इस मामले में कहना है कि आगे से इस बात का पूरा ध्यान रखा जाएगा ऐसा ना हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here