CM ने IG अनिल शर्मा को हटाया ,1 करोड़ के मुआवजे का ऐलान, अपराधियों के विरुद्ध कठोरतम कार्यवाही

0
6

भोपाल
 मध्यप्रदेश
में गुना (Guna Firing News) में देर रात हुई पुलिस-शिकारियों के बीच भिड़ंत में तीन पुलिसकर्मियों (policemen) की मौत हो गई है। दरअसल सीएम शिवराज ने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण करार देते हुए आपातकाल उच्चस्तरीय बैठक बुलाई थी। बड़ी बैठक में मारे गए पुलिसकर्मियों के लिए Shivraj सरकार ने बड़ी घोषणा करते हुए एक-एक करोड़ के मुआवजे का ऐलान किया है। घटनास्थल पर देरी से पहुंचने पर ग्वालियर के IG अनिल शर्मा को हटा दिया गया है।

सीएम शिवराज ने कहा कि गुना की गोलीबारी में शहीद हुए पुलिस के तीनों अधिकारी/ कर्मचारियों के परिजनों को एक-एक करोड़ रुपए की अनुग्रह राशि प्रदान की जाएगी। अंतिम संस्कार में जिलों के प्रभारी मंत्री शामिल होंगे। जानकारी देते हुए उन्हने बताया कि 7 शिकारी शामिल थे। उनमें से एक शिकारी क्रास फायरिंग में मारा गया। अपराधियों के विरुद्ध कठोरतम कार्यवाही करेंगे।

शहीदों के अंतिम संस्कार में शामिल होंगे जिलों के प्रभारी मंत्री

इसमें सब इंस्पेक्टर राजकुमार जाटव, आरक्षक नीरज भार्गव और आरक्षक संतराम ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। शिकारियों के पास से पांच हिरण और एक मोर के अवशेष जब्त किए हैं। SI राजकुमार जाटव का अंतिम संस्कार अशोकनगर में होगा। आरक्षक संतराम का श्योपुर में, आरक्षक राजीव भार्गव का अंतिम संस्कार गुना में ही किया जाएगा। शहीदों के अंतिम संस्कार में जिलों के प्रभारी मंत्री शामिल होंगे।

मध्य प्रदेश की पुलिस मुस्तैदी से जान की बाजी लगाकर कर्तव्य निर्वहन कर रही है। रात्रि में भी पुलिस पेट्रोलिंग नियमित व निरंतर हो रही है। इसीलिए शिकारियों को घेर पाए। साथ ही गृहमंत्री Narottam Mishra ने कहा कि तीनों प्रभारी मंत्री तीनों स्थानों पर स्थिति का जायजा ले रहे हैं। इससे पहले पुलिस ने बड़ा एक्शन लेते हुए एनकाउंटर में राधौगढ़ के रहने वाले नौशाद नामक शिकारी को मार गिराया है। इसके साथ ही अन्य की सर्चिंग जारी है। जल्द ही सभी आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

सुबह 9:30 बजे हुई इस बैठक में गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा के अलावा सीएस, DGP, ADG, पीएस गृह, पीएस मुख्यमंत्री सहित पुलिस अधिकारी शामिल हुए। इसके अलावा गुना प्रशासन के बड़े अधिकारी भी इस बैठक में वर्चुअली शामिल हुए।गुना के आरोन इलाके में बदमाशों से मुठभेड़ में 3 पुलिसकर्मी की मौत हो गई है। वहीं ड्राइवर भी गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। शुक्रवार शनिवार तड़के सुबह 3:00 बजे हुई इस घटना के बाद ड्राइवर को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जिन पुलिसकर्मियों की मौत हुई है। उसमें SI राज कुमार जाटव के अलावा आरक्षक नीरज भार्गव और आरक्षक संतराम शामिल है। बताया जा रहा है कि बदमाश काले हिरण को मार कर ले जा रहे थे।

जिसके बाद पुलिस द्वारा उनको पकड़ने के लिए एक्शन लिया गया। इस दौरान बदमाशों की तरफ से हुई फायरिंग में पुलिस जवानों की मौत हो गई है। जिस पर अब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा बड़ी बैठक बुलाई गई है। इससे पहले राज्य शासन के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा लगातार पुलिस अधीक्षक सहित DGP के साथ संपर्क में है और घटना स्थल का जायजा ले रहे हैं।

गृहमंत्री नरोत्तम ने जानकारी देते हुए बताया कि 7 से 8 बदमाशों की सूचना मिली थी। वह मोटरसाइकिल सवार थे। उन्हें पुलिस ने चारों तरफ से घेर लिया था। जिसके बाद पुलिस को देखते ही बदमाशों द्वारा फायरिंग शुरू कर दी गई। इधर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कठोर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। उनका कहना है कि इस मामले में जिस की भी संलिप्तता है। किसी को भी नहीं बख्शा जाएगा बदमाशों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here