विचारों के आदान-प्रदान से अपराधों पर लगेगी रोकथाम : गृह मंत्री डॉ. मिश्रा

0
138

भोपाल

गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने पुलिस अधिकारियों के सायबर क्राइम और आईटी अपराधों की विवेचना एवं रोकथाम के लिये कौशल उन्नयन की 10 दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय समिट का वर्चुअल शुभारंभ किया। शुभारंभ सत्र मेंपूर्व सीबीआई निदेशक ऋषि कुमार शुक्ला, महानिदेशक पुलिस विवेक जोहरी तथा स्पेशल डीजी (ट्रेनिंग) श्रीमती अरूणा मोहन रॉव ने भी संबोधित किया। डीजीपी रिसर्च एण्ड पॉलिसी सेल, मध्यप्रदेश द्वारा आयोजित सायबर क्राइम इन्वेस्टीगेशन एवं इंटेलिजेंस समिट (CIIS) 2021 में यूनिसेफ, क्लीयर ट्रेल और सॉफ्ट क्लिक्स भी सहयोगी हैं।

अन्तर्राष्ट्रीय समिट का शुभारंभ करते हुए डॉ. मिश्रा ने कहा कि देश-काल और परिस्थितियों अनुसार अपराध करने के तौर-तरीकों में बदलावा आया है। आईटी का उपयोग कर किये जाने वाले अपराध, सायबर अपराध बढ़ने और इनसे निपटने के पुख्ता तौर-तरीकों की आवश्यकता निरंतर महसूस की जा रही है। आशा है कि इस समिट के द्वारा सायबर अपराध से उत्पन्न हो रही चुनौतियों से सभी भलीभांति अवगत होंगे, आधुनिक तकनीकों से परिचित होंगे, सभी के कौशल उन्नयन में मदद मिलेगी। डॉ. मिश्रा ने कहा कि विचारों के आदान-प्रदान से समिट में निश्चित ही अमृत निकलेगा, जो अपराधों की रोकथाम में मददगार साबित होगा।

पुलिस अकादमी भौरी में सायबर क्राइम एन्वेस्टीगेशन एण्ड इंटेलिजेंस समिट (CIIS) के सहयोगी यूनिसेफ प्रतिनिधि लौली चैन, वाइस प्रेसिडेंट एण्ड को-फाउंडर क्लीयर टेल मनोहर कटौच, सॉफ्ट क्लिक्स फाउंडेशन से राकेश जैन और निदेशक मध्यप्रदेश पुलिस अकादमी राजेश चावला उपस्थित रहे। गृह मंत्री डॉ. मिश्रा को एआईजी ट्रेनिंग सुइरमिन शाह ने प्रतीक चिन्ह भेंट किया। पुलिस अकादमी भौरी में डीआईजी प्रशिक्षण विनीत कपूर ने अतिथियों को प्रतीक चिन्ह भेंट किये। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (सायबर सेल) योगेश देशमुख ने आभार व्यक्त किया।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here