विकास कार्यं: बारिश थमते ही उज्जैन में आएगी तेजी

0
99

उज्जैन
बाबा महाकाल मंदिर परिसर के विकास कार्यों में अब बारिश का दौर थमते ही तेजी लाई जाएगी। मुख्यमंत्री के अगले माह संभावित उज्जैन दौरे के मद्देनजर जिला प्रशासन ने मंदिर परिसर विकास के लिए स्वीकृत कामों को समय सीमा में पूरा करने के निर्देश दिए हैं। यहां पहले फेज का काम पूरा करने के लिए सितम्बर 21 की टाइमलाइन प्रशासन ने तय कर रखी है।

उज्जैन में महाकाल मंदिर के सामने के 11 मकान व त्रिवेणी संग्रहालय से लेकर चार धाम मंदिर तक की सड़क का अधिग्रहण कार्य एक सप्ताह में पूरा कर लिया जाएगा। पिछले दिनों कलेक्टर की मौजूदगी में हुई बैठक में महाकाल मंदिर विकास कार्यों की समीक्षा की गई। अधिग्रहण  का अवार्ड अगले सप्ताह पारित करने को कहा गया है। इसी तरह महाकाल मंदिर प्रांगण के सामने की ओर 70 मीटर क्षेत्र के भूमि अधिग्रहण के संबंध में धारा 11 का प्रकाशन भी आगामी सप्ताह में करने के लिए निर्देशित किया गया है।

चार धाम मंदिर से नरसिंघाट मार्ग की धारा 19 की कार्यवाही भी  करने के लिए निर्देशित किया गया है। कलेक्टर ने सिद्धवट व काल भैरव मंदिर पार्किंग के लिए स्मार्ट सिटी द्वारा किए जा रहे  कार्यों में समय सीमा दर्शाने वाले टाइमर लगाने के निर्देश दिए हैं।

गौरतलब है कि महाकाल मंदिर परिसर के विस्तार एवं सौंंदर्यीकरण पर 700 करोड़ रुपए खर्च किए जाने हैं। यह काम दो चरण में होना है। परियोजना का पहला चरण सितंबर-2021 तक और दूसरा चरण अगस्त-2023 तक पूरा करने का निर्णय छह माह पहले लिया गया था। विस्तार के बाद मंदिर क्षेत्र 8 गुना बढ़कर 23.05 हेक्टेयर हो जाएगा।

 अभी मंदिर परिसर का क्षेत्रफल 2.82 हेक्टेयर है। इस पूरी योजना को श्री महाकाल महाराज मंदिर परिसर विस्तार योजना का नाम दिया गया है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here