जंगल में लकड़ी बीन रहे तीन लोगों पर 4 भालुओं का हमला, एक मौत

0
24

पन्ना
पन्ना टाइगर रिजर्व क्षेत्र के हिनौता जंगल में आज चार भालुओं ने तीन आदिवासियों पर हमला कर दिया। भालुओं के हमले से तीनों आदिवासी बुरी तरह से घायल हो गए। किसी तरह से आदिवासियों ने भालू से अपनी जान बचाई। घायल आदिवासियों को उपचार के लिए जिला चिकित्सालय ले जाया गया। चिकित्सालय में भर्ती घायलों की हालत सामान्य बनी हुई है।

जानकारी के अनुसार टाइगर रिजर्व क्षेत्र के हिनौता रेंज के ग्राम हिनौता निवासी 3 आदिवासी काे लकडी बीनते समय 4 भालुओं ने हमला कर घायल कर दिया। घायलों में गंगा बाई पति राजू आदिवासी उम्र 45 वर्ष निवासी हिनौता, मोहन पिता किशोरी आदिवासी उम्र 18 वर्ष निवासी हिनौता तथा गंगाराम पिता राजू आदिवासी उम्र 26 साल निवासी हिनौता ने बताया कि वह तीनों सुबह जंगल में लकड़ी बीनने गए थे।

उसी दौरान झाड़ियों मे छिपे भालुओं ने हमला कर दिया। भालुओं की संख्या चार थी। किसी तरह हम लोगों ने अपनी जान बचाई। घटना की सूचना वन विभाग को दी गई। वन विभाग के कर्मचारियों द्वारा घायलों को जिला चिकित्सालय लाया गया है। जहां पर उनका इलाज चल रहा है। गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले रानीगंज मोहल्ला पन्ना में एक भालू ने पति-पत्नि को मौत के घाट उतार दिया था। इन लगातार हो रही घटनाओं के बावजूद वन विभाग द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।

ये हुए घायल
घायलों में गंगा बाई पत्नी राजू आदिवासी 45 वर्ष, मोहन पुत्र किशोरी आदिवासी 18 वर्ष और गंगाराम आदिवासी पुत्र राजू आदिवासी 24 वर्ष सभी निवासी हिनौता शामिल है।

दंपत्ति की हो गई थी मौत
बताया गया है कि इस समय क्षेत्र में भालुओं का आतंक काफी ज्यादा है। गत दिवस रानीगंज मोहल्ला पन्ना में एक भालू ने दंपत्ति पर हमला कर उन्हें मौत के घाट उतार दिया था। क्षेत्र में लगातार हो रही घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए वन विभाग द्वारा कोई ठोस कदम नहीं उठाया जा रहा। जिससे स्थानीय निवासी भय के साये में अपना जीवन गुजार रहे हैं। क्षेत्र में बढ़ रही घटनाओं से ग्रामीण हमेशा इसी बात से चिंतित रहते हैं कि कब कोई जंगली जानवर हमला कर दे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here