हेमंत सोरेन बोले- शिक्षक और मनरेगा के 1200 पदों पर भर्तियां जल्द 

0
122

रांची
राज्य सरकार ने इस वर्ष को नियुक्ति वर्ष के रूप में मनाने का संकल्प लिया है। सरकारी और निजी क्षेत्रों में युवाओं को रोजगार से जोड़ने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं। लगभग पांच वर्षों से लंबित जेपीएससी की परीक्षा कराई गई है। अब लगभग 700 शिक्षकों और मनरेगा में 500 पदों समेत अन्य खाली पदों को भरने की कार्यवाही हो रही है। ये बातें मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने मंगलवार को प्रोजेक्ट भवन में खूंटी और जमशेदपुर के कल्याण गुरुकुल से प्रशिक्षित 238 छात्रों को नियुक्ति पत्र प्रदान करते हुए कही। सीएम ने छात्रों को बेहतर भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि अब तक लगभग 600 चिकित्सकों, 24 खेल पदाधिकारियों, 40 खिलाड़ियों की सीधी नियुक्ति हो चुकी है। इसके अलावा एसीसी कंपनी में डेढ़ सौ युवाओं को स्थायी नौकरी और दूसरे राज्यों में काम कर रही यहां की 200 युवतियों को अपने घर में ही टेक्सटाइल उद्योग में रोजगार से जोड़ा गया। 900 से ज्यादा युवतियों को प्रशिक्षित कर नर्स बनाया गया।

प्रशिक्षण के साथ प्लेसमेंट भी
मुख्यमंत्री ने कहा कि युवाओं के कौशल विकास के लिए सरकार कई प्रशिक्षण कार्यक्रम चला रही है। कल्याण गुरुकुल में भी युवाओं को विभिन्न ट्रेडों में प्रशिक्षण दिया जा रहा है। यहां उनका प्लेसमेंट भी हो रहा है। उन्होंने कहा कि यहां से प्रशिक्षण के बाद जिन युवाओं का प्लेसमेंट हुआ है, उनका समय-समय पर इंटरनल एसेसमेंट की व्यवस्था भी सुनिश्चित हो।

15,000 से ज्यादा युवाओं को मिला रोजगार
प्रेज्ञा फाउंडेशन द्वारा संचालित कल्याण गुरुकुल खूंटी और जमशेदपुर के 238 छात्रों को नियुक्ति पत्र प्रदान किया गया। इनमें अनुसूचित जनजाति के 174 अनुसूचित जाति के 7, ओबीसी के 51 और अल्पसंख्यक वर्ग के 6 छात्र शामिल हैं। इन सभी छात्रों का प्लेसमेंट शापूरजी पालन जी, आटोमोटिव एक्सल और विलास जावेडकर जैसी कंपनियों में हुआ है। इन सभी छात्रों ने कल्याण गुरुकुल में निर्माण और इलेक्ट्रीशियन ट्रेड में प्रशिक्षण प्राप्त किया है।

किसान के बच्चों को प्रशिक्षण देकर रोजगार पर जोर : चंपई सोरेन
कल्याण मंत्री चंपई सोरेन ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र के युवाओं को तकनीकी शिक्षा दी जा रही है। किसान के बेटा – बेटी को सरकार प्रशिक्षण दे कर उद्योग जगत पहुंचने का काम कर रही है। बड़ी कंपनियों में छात्रों की नियुक्ति हो रही है। मौके पर मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, मुख्यमंत्री के सचिव विनय कुमार चौबे और अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति, अल्पसंख्यक और पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग के सचिव श्री के के सोन उपस्थित रहे। 
 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here