भारत और ऑस्ट्रेलिया मैच: अंपायर के फैसले से पलटा मैच, सोशल मीडिया पर भड़के फैंस

0
139

नई दिल्ली

भारतीय महिला क्रिकेट टीम और ऑस्ट्रेलिया के बीच दूसरे वनडे में विवाद पैदा हो गया. दरअसल टीम इंडिया जीत के करीब थी लेकिन अंपायर के एक फैसले से बाजी पलट गई.

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच इस मैच के आखिरी ओवर की आखिरी गेंद पर कंगारुओं को जीत के लिए 3 रनों की जरूरत थी. टीम इंडिया की तरफ से दिग्गज खिलाड़ी झूलन गोस्वामी गेंदबाजी कर रही थी. बॉल बैटर बेथ मूनी के बल्ले से लगकर मिडविकेट पर खड़ी फील्डर के हाथों में आ गई.

भारतीय महिला खिलाड़ियों ने सेलिब्रेट करना शुरू कर दिया, लेकिन मैच में ड्रामा अभी बाकी थी. फील्ड अंपायर ने थर्ड अंपायर से कुछ पूछा और इस गेंद को 'नो बॉल' घोषित कर दिया. ऑस्ट्रेलिया को एक फ्री हिट मिल गई और अब मेजबान को 2 रन बनाने थे. इस गेंद पर कंगारुओं ने जीत दर्ज कर ली. लेकिन अंपायर के फैसले पर बवाल खड़ा हो गया.

इस 'नो बॉल' को लेकर सोशल मीडिया पर बहस छिड़ गई. कई फैंस का मानना है कि ये एक लीगल गेंद थी जिसे 'नो बॉल' घोषित कर दिया गया. एक यूजर ने भड़कते हुए लिखा अगर ये पुरुषों का मैच होता तो ऐसा नहीं किया जाता जाता. थर्ड अंपायर विराट कोहली की मौजूदगी में ऐसा फैसला नहीं दे सकते थे.

 
ऑस्ट्रेलिया की पूर्व क्रिकेटर लिसा स्टालेकर ने अपने ट्विटर अकाउंट पर दो तस्वीरें शेयर की हैं. वो खुद समझ नहीं पा रही हैं कि आखिरी गेंद को किस आधार पर 'नो बॉल' (No Ball) करार दिया गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here