बिजली कंपनियों के आउटसोर्स कर्मचारियों की हड़ताल शुरू

0
129

भोपाल। राजधानी सहित पूरे प्रदेश में रविवार-सोमवार की दरमियानी रात से बिजली आपूर्ति से संबंधित काम देख रहे 35 हजार से अधिक आउटसोर्स कर्मचारियों ने हड़ताल शुरू कर दी है। ऐसे में देर रात से ही कई बिजली कार्यालय, कम्प्यूटर आॅपरेटर, पॉवर ग्रिड आॅपरेटर, लेबर, मेंनेटेंस का काम प्रभावित हो गया है। सभी आउटसोर्स कर्मचारियों ने अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने से एक दिन पहले ही इसकी सूचना अपने-अपने अफसरों को दे दी थी। ऐसे में अब तत्काल बिजली समस्या का निराकरण, जिन स्थानों पर मीटर रीडिंग का काम शुरू होना है, वह सब प्रभावित हो गया है। ऐसे में यदि कहीं बिजली बंद हुई, तो देरी से सप्लाई होगी। हालांकि बिजली कंपनी ने इस मामले में मोर्चा संभालने का दावा किया जा रहा है।

वेतन, भत्ता और भर्ती को लेकर शुरू किया आंदोलन
बताया जा रहा है कि बिजली कर्मचारी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं, ऐसे में आपूर्ति पर असर पड़ना तय है। दरअसल यही आउटसोर्स कर्मचारी मैदानी स्तर पर बिजली व्यवस्था को संभालते हैं। मध्य प्रदेश बिजली आउट सोर्स अधिकारी कर्मचारी संगठन के प्रदेश संयोजक मनोज भार्गव ने बताया कि मध्य प्रदेश मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी समेत प्रदेश की सभी बिजली वितरण, उत्पादन और मैनेजमेंट कंपनियों में काम करने वाले आउटसोर्स कर्मचारी हड़ताल पर चले गए हैं। कर्मचारियों की वेतन, भत्ते और भर्ती संबंधी मांगों को लेकर यह आंदोलन शुरू किया गया है। ऐसे में राजधानी सहित पूरे प्रदेश में बिजली आपूर्ति संबंधी परेशानी के लिए विभाग ही जिम्मेदार रहेगा। गौरतलब है कि बिजली कंपनियों में यह आउट सोर्स व्यवस्था 2018 से शुरू हुई है और अब तक कंपनियों ने 35 हजार से अधिक कर्मचारियों को भर्ती किया गया है। यह भर्ती आउट सोर्स कंपनियों के जरिए की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here