मुख्यमंत्री के निर्देश पर योजनाओं की मैदानी हकीकत जानने ग्वालियर, इंदौर, जबलपुर जाएंगी पल्लवी जैन

0
122

भोपाल
मुख्यमंत्री के निर्देश पर अब आईएएस अफसरों ने योजनाओं की मैदानी हकीकत जानने फ ील्ड में जाकर योजनाओं के हाल जानना शुरु कर दिया है। आदिम जाति कल्याण विभाग की प्रमुख सचिव पल्लवी जैन गोविल ग्वालियर, इंदौर और जबलपुर जाकर वहां अफसरों की बैठक लेंगी, दौरे करेंगी और देखेंगी कि सरकारी योजनाएं कितनी आमजन तक पहुंच रही है। आदिम जाति कल्याण विभाग की प्रमुख सचिव पल्लवी जैन 30 सितंबर और एक अक्टूबर को ग्वालियर पहुंचेंगी। वे वहां ग्वािलयर और चंबल संभाग की समीक्षा करेंगी। सात और आठ अक्ब्ूबर को इंदौर में इंदौर और भोपाल, नर्मदापुरम एवं उज्जैन संभग की समीक्षा करेंगी। जबलपुर में वे 21 और 22 अक्टूबर को पहुंचेंगी। वहां वे जबलपुर , शहडोल, सागर और रीवा संभाग की समीक्षा करेंगी।

इस दौरान वे समीक्षा भी करेंगी और दौरे भी करेंगी। वे अफसरों से पूछेंगी कि आवास सहायता योजना के अंतर्गत कितने प्रस्ताव स्वीकृत किए गए और कितनों में भुगतान किया गया। छात्रावासों में छात्रों के आॅनबोर्डिंग एक्जिट और रिन्यूअल की समीक्षा करेंगी। क्रीड़ा परिसरों में प्रवेश की समीक्षा भी वे करेंगी। अनुदान प्राप्त संस्थानों के भुगतान से संबंधित लंबित प्रकरणों और खर्च का भी वे हिसाब पूछेंगी।

विभाग के बजट से मजदूरी पर कितना खर्च हुआ। नवीन प्रस्तावित 35 कन्या परिसर, भारिया हेतÞु छिंदवाड़ा, बैगा के लिए बालाघाट और सहरिया के लिए शिवपुरी में तीन सांस्कृतिक भवनों के निर्माण की स्थिति, भवन विहीन छात्रावास, आश्रम और स्कूलों  तथा पीवीटीजी के सामुदायिक भवन, नये छात्रावास विद्यालय के लिए भूमि की उपलब्धता की ताजा स्थिति भी वे देंगी। वन अधिकार अधिनियम के क्रियान्वयन, आदिवासी वित्त एवं विकास निगम की योजनाओं की जानकारी, दिव्यांग छात्र-छात्राओं के प्रवेश, प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना की उपलब्धि, अनुसूचित जाति, जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के क्रियान्वयन की समीक्षा भी वे करेंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here