पीएम किसान सम्मान निधि योजना: अब किसानों को मिलेंगे 36000

0
217

भोपाल
देश के किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी, पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत 6 हजार सालाना पाने वाले किसानों के लिए एक और बड़ी खबर है। किसान अब  6 हजार की जगह 36000 हजार पा सकते है, इसके लिए मोदी सरकार ने किसान मानधन योजना की व्यवस्था की है, हालांकि इसके लिए किसानों को अभी पैसे छोड़ने होंगे जो बाद में उन्हें पेंशन के रुप में हर महीने 3 हजार रुपए के रुप में मिलेंगे।

दरअसल, केंद्र की मोदी सरकार ने किसानों को सरकारी अधिकारी और कर्मचारियों की तर्ज पर पेंशन का लाभ दिलाने के लिए पीएम किसान मानधन योजना की व्यवस्था की है। इसके तहत किसानों को 6000 की जगह सालाना 36000 रुपए मिलेंगे। इसके तहत अगर आप पीएम किसान सम्मान निधि के पात्र है और आपकी उम्र 60 साल से कम है तो आपको भी हर महीने 3000 रुपये मिल सकते हैं। इसके लिए आपको अलग से कोई डॉक्यूमेंट जमा करने की जरूरत नहीं है और न ही कोई पैसा देने की जरूरत है। आपको हर साल मिलने वाले 6 हजार रुपयों में से ही आपके प्रीमियम के पैसे कट जाएंगे और आपकी उम्र 60 साल होने पर आपको हर महीने 3000 रुपये पेंशन मिलेगी।

कैसे और कौन उठा सकता है योजना का लाभ

  • जिन किसानों की उम्र 18 से 40 साल है वे इस योजना का फायदा उठा सकते हैं।
  • किसानों के पास ज्यादा से ज्यादा 2 हेक्टेयर की खेती लायक जमीन होनी चाहिए।
  • इस योजना में उम्र के हिसाब से रुपये जमा करने होते हैं।
  • 60 साल की उम्र होने के बाद 3000 रुपये प्रति माह पेंशन मिलेगी।
  • इसका न्यूनतम प्रीमियम 55 रुपये से लेकर 200 रुपये तक है।
  • अगर पॉलिसी होल्डर किसान की मौत हो गई तो उसकी पत्नी को 50 फीसदी (1500 रुपए) रकम मिलती रहेगी।
  • जितना प्रीमियम किसान देगा उतना ही मोदी सरकार भी देगी।
  • अगर बीच में कोई पॉलिसी छोड़ना चाहता है तो जमा पैसा और उसका साधारण ब्याज मिल जाएगा।
  • रजिस्ट्रेशन के लिए कोई फीस नहीं लगेगी।
  • आवेदन करने वाले व्यक्ति की उम्र 18 साल से कम और 40 साल से ज्यादा नहीं होनी चाहिए।
  • इस स्कीम में आवेदन करने वाले व्यक्ति की मासिक आय 15 हजार रुपए से कम होनी चाहिए।

ऐसे कर सकते है रजिस्ट्रेशन

  • पेंशन योजना का लाभ लेने के लिए कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) पर रजिस्ट्रेशन होगा।
  • आधार कार्ड देना सबके लिए जरूरी है।
  • अगर आपको पीएम किसान स्कीम का लाभ नहीं मिल रहा तो खसरा-खतौनी की नकल लगेगी।
  • 2 फोटो और बैंक की पासबुक की भी जरूरत होगी।
  • रजिस्ट्रेशन के दौरान किसान पेंशन यूनिक नंबर और पेंशन कार्ड बनाया जाएगा।
  • पंजीकरण के लिए श्रमिक अपना आधार कार्ड, बचत या जनधन बैंक खाते की पासबुक, मोबाइल नंबर।
  • सहमति पत्र देना होगा जो बैंक ब्रांच में भी देना होगा जहां पर श्रमिक का बैंक खाता होगा, तभी उसके बैंक खाते से पेंशन के लिए पैसा कटेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here