दिव्यांगजनों का यूडीआईडी कार्ड बनाने अब 18 मई से लगाए जाएंगे विशेष शिविर

0
8

धमतरी
समाज कल्याण विभाग द्वारा 'आजादी से अंत्योदय तक' अभियान के तहत विशेष शिविर आयोजित किए जाएंगे जहां दिव्यांगजनों का यूडीआईडी कार्ड, दिव्यांगता प्रमाण-पत्र, कृत्रिम अंग चिन्हांकन एवं आंकलन तथा प्रमाणीकरण किया जाएगा। इसके लिए जिले के चारों विकासखण्डों में 18 मई से 23 जून तक शिविर लगाए जाएंगे, जहां पर चिकित्सकों की टीम के द्वारा चिन्हांकन एवं आंकलन किया जाएगा। इसके तहत जनपद पंचायत धमतरी की ग्राम पंचायतों में 03 शिविर, जनपद पंचायत कुरूद व मगरलोड में 4-4 तथा जनपद पंचायत नगरी में 06, इस प्रकार कुल 17 शिविर आयोजित किए जाएंगे।

कलेक्टर पी.एस. एल्मा ने बताया कि आजादी का अमृत महोत्सव के उपभाग 'आजादी से अंत्योदय तक' के अंतर्गत 90 दिवस का विशेष अभियान चलाकर दिव्यांगजनों को विशिष्ट पहचान पत्र (यूडीआईडी) तैयार कर वितरित किए जाएंगे, ताकि उन्हें शासन की विभिन्न योजनाओं का लाभ मिल सके। उन्होंने बताया कि अभियान के तहत जिले में 18 मई से 23 जून तक सभी विकासखण्डों की चिन्हांकित ग्राम पंचायतों में शिविर लगाकर दिव्यांगों का चिन्हांकन, आंकलन व प्रमाणीकरण किया जाएगा। कलेक्टर ने बताया कि जनपद पंचायत धमतरी की ग्राम पंचायत अकलाडोंगरी में 18 मई को शिविर लगाया जाएगा, जहां अस्थिरोग, मनोरोग, नेत्ररोग और श्रवण विशेषज्ञ द्वारा दिव्यांगों का आंकलन व प्रमाणीकरण किया जाएगा। ग्राम पंचायत रावां में 19 मई को सुबह दस बजे से शिविर लगाया जाएगा। इसी प्रकार जनपद पंचायत कुरूद में 23 मई को ग्राम पंचायत सिर्री में, ग्राम पंचायत कोर्रा में 25 मई को, नारी में 26 मई को तथा ग्राम पंचायत चर्रा में 30 मई को प्रमाणीकरण शिविर लगाकर दिव्यांगों का आंकलन किया जाएगा। इसके अलावा जनपद पंचायत मगरलोड में ग्राम पंचायत मेघा में 01 जून को, सिंगपुर में 02 जून को, भेण्ड्री में 06 जून को तथा ग्राम पंचायत मोहंदी में 08 जून को शिविर आयोजित किया जाएगा। जनपद पंचायत नगरी में 09 जून को ग्राम पंचायत सांकरा में, 13 जून को ग्राम पंचायत उमरगांव में, 15 जून को बेलरगांव में, 16 जून को गट्टासिल्ली में, 20 जून को कुकरेल में तथा 22 जून को ग्राम पंचायत दुगली में सुबह 10 बजे से शिविर लगाया जाएगा। इसके उपरांत अंतिम शिविर का आयोजन जनपद पंचायत धमतरी के गौरव ग्राम पंचायत कण्डेल में 23 जून को सुबह 10 बजे से किया जाएगा।

कलेक्टर ने इसे लिए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को पत्र लिखकर अपने अधीनस्थ विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम उपलब्ध कराने के लिए निर्देशित किया है। इसी तरह सभी अनुविभागीय अधिकारियों को शिविर स्थल में संबंधित ग्राम पंचायत के करारोपण अधिकारी, सरपंच, सचिव, रोजगार सहायक तथा कोटवारों के माध्यम से मुनादी कराने के निर्देश दिए गए हैं। इन शिविरों में स्थानीय जनप्रतिनिधियों को भी सूचित करते हुए उन्हें आमंत्रित करने के लिए निर्देशित किया है। शिविर स्थल पर दिव्यांगजनों के प्रमाणीकरण एवं चिन्हांकन के लिए उनके दो फोटो, आधार कार्ड/राशन कार्ड की छायाप्रति के साथ उपस्थित होने, शिविर स्थल पर पण्डाल, टेंट, पेयजल, भोजन, फोटोग्राफी सहित अन्य आवश्यक व्यवस्था कोविड-19 के संबंध में जारी दिशानिर्देशों पर का पालन करते हुए सुनिश्चित करने कहा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here