महाराष्ट्र में 7 अक्टूबर से कोरोना गाइडलाइन के तहत खोले जाएंगे मंदिर

0
226

  पुणे
महाराष्ट्र में कोरोना के मामले कम होने लगे हैं. कई तरह की पाबंदियों से छूट भी दी जा चुकी है. लेकिन ठाकरे सरकार द्वारा लंबे समय से मंदिर खोलने की इजाजत नहीं दी जा रही थी. ऐसे में इस मुद्दे पर राज्य में जमकर विवाद था. बीजेपी लगातार सरकार को कठघरे में खड़ा कर रही थी. अब उस दवाब के बीच राज्य सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. महाराष्ट्र में 7 अक्टूबर से मंदिरों को खोल दिया जाएगा. इसके साथ ही लोग 7 अक्टूबर से शिरडी मंदिर, मुंबा देवी मंदिर में देवी-देवताओं के दर्शन करने जा सकेंगे.

महाराष्ट्र में खुल जाएंगे मंदिर

जानकारी दी गई है कि नवरात्रि के पहले दिन यानी की 7 अक्टूबर से राज्य के सभी मंदिरों को खोल दिया जाएगा. सीएम ऑफिस की तरफ से एक बयान जारी कर ये फैसला सुनाया गया है. अब मंदिरों को खोलने की इजाजत जरूर दी गई है, लेकिन कोरोना नियमों का सख्ती से पालन करना होगा. सरकार ने स्पष्ट कर दिया है कि कोरोना नियमों का हर स्थिति में पालन होना आवश्यक रहेगा. फिर चाहे वो मास्क पहनना हो या फिर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना. इस मामले में किसी भी तरह की लापरवाही को नजरअंदाज नहीं किया जाएगा.

सीएम उद्धव ठाकने ने कहा कि हमने कोरोना की तीसरी लहर से लड़ने की तैयारी कर ली है. अब धीरे-धीरे सब खोला जा रहा है. मामले जरूर कम हो रहे हैं, लेकिन हमे सावधानी बरतनी होगी. मंदिर जरूर खोले जा रहे हैं, लेकिन कोरोना प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन किया जाएगा.

स्कूल खोलने की भी पूरी तैयारी

वैसे मंदिरों के अलावा अब राज्य सरकार ने छठी से 12वीं तक के स्कूल खोलने का फैसला भी ले लिया है. बताया गया है कि महाराष्ट्र में चार अक्टूबर से स्कूलों को खोल दिया जाएगा. ग्रामीण क्षेत्रों में 5-12वीं कक्षा और शहरी इलाकों में 8-12वीं कक्षा के लिए स्कूल खोल दिए जाएंगे. लेकिन वहां भी एक सख्त कोरोना गाइडलाइन जारी कर दी गई है जिसका पालन करना अनिवार्य रहेगा.

महाराष्ट्र के कोरोना मीटर की बात करें तो पिछले कई दिनों से मामले तीन हजार से ऊपर दर्ज किए जा रहे हैं. लेकिन पहले की तुलना में स्थिति अब सुधरी है और मौतें भी कम हो रही हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here