ये हैं पूर्वजों के खुश होने के संकेत

0
138

इस समय पितृ पक्ष चल रहा है. पितृ पक्ष 20 सिंतबर से 6 अक्टूबर तक चलेगा. हिंदू धर्म में पूर्वजों की शांति के लिए पितृ पक्ष में तर्पण और श्राद्ध किया जाता है. लेकिन आपके तर्पण से आपके पूर्वज खुश हैं या नहीं, ये जानना बहुत जरूरी है क्योंकि अगर आपके पितर आपसे खुश नहीं हैं तो आपको बड़ा नुकसान हो सकता है. धन हानि की संभावना भी रहती है.

जान लें कि पितृ पक्ष में कौवे का बहुत महत्व होता है. विष्णु पुराण में श्राद्ध पक्ष में कौवे को भोजन करवाने की बात कही गई है. कौआ पितरों का प्रतीक माना जाता है. पितृ पक्ष के दौरान आप कौवे की मदद से जान सकते हैं कि आपके पूर्वज आपसे प्रसन्न हैं या नहीं.

बता दें कि श्राद्ध पक्ष में अगर आपके घर की छत पर कौआ चोंच में फूल-पत्ती लेकर बैठता है तो इसका मतलब है कि पूर्वज आपसे खुश हैं और आपकी मनोकामना पूरी होगी. इसके अलावा अगर गाय की पीठ पर बैठकर कौआ चोंच रगड़ता हुआ दिखे तो आपको खाने में स्वादिष्ट खाना मिलता है. अगर कौआ चोंच में सूखा तिनका लिए हुए दिखता है तो आपको धन लाभ होगा. अगर कौआ अनाज के ढेर पर बैठा हुआ दिखे तो आपकी आर्थिक समस्या दूर होगी. अगर कौआ सुअर की पीठ पर बैठा हुआ दिखता है तो बिजनेस में बड़ा फायदा होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here