आज पुरखा मन के सुरता करे के दिन हे, कबरके विकास के चिंता वहि मन करिन – भूपेश

0
108

महासमुंद
बागबाहरा रोड स्थित छत्तीसगढ़ स्कूल में आयोजित छत्तीसगढ़ चंद्रनाहू कुर्मी क्षत्रिय समाज केंद्रीय महाधिवेशन में  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मंच में आते ही कुछ देर छत्तीसगढ़ी में सभा को संबोधित करते हुए कहा कि समाज गंगा हरे। आज पुरखा मन के सुरता करे के दिन हे। छत्तीसगढ़ के विकास के चिंता हमर पुरखा मन करिन। राज बनाय बर हमर पुरखा मन आंदोलन करिन। उंकर बात बोली अउ मेहनत ल देखे सुने रेहेन। एकरे सेती हमन उंकर सम्मान करेन। हमन उंकर सपना के, अपन संस्कृति के सम्मान करथन। चीला, फरा के सम्मान करथन। गऊ गरवा के सम्मान करथन। गोबर के उपयोग करथन। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार छत्तीसगढ़ राज्य के विकास में सहयोग नहीं कर रही है, फिर भी हम अपनी खेती को मजबूत कर रहे हैं। किसानों को समृद्ध करने का काम जारी है।

उन्होंने कहा कि लघु उद्योगों का निर्माण हमको करना है। एक साल चुनाव में गुजर गया। दो साल कोरोना में चला गया। नुकसान तो कोरोना ने बहुत गहरा असर छोड़ा। एक बात अच्छी रही कि कोरोना ने कुछ रूढ़ परम्पराओं को ढेर किया है। उन्होंने महासमुंद में स्व. पुरुषोत्तम लाल कौशिक के नाम से भव्य आडिटोरियम की घोषणा की। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार छत्तीसगढ़ राज्य के विकास में सहयोग नहीं कर रही है, फिर भी हम अपनी खेती को मजबूत कर रहे हैं। किसानों को समृद्ध करने का काम जारी है। छत्तीसगढ़ी बोलने वाले बच्चे अंग्रेजी स्कूलों में पढ़ रहे हैं। महासमुंद में मेडिकल कॉलेज खुलने जा रहा है। सरकारी दफ्तरों में रिक्त पदों पर नियुक्ति जारी है। फिर भी बेरोजगारी दूर नहीं हो रही है। इसीलिए इंजीनियरिंग किए बच्चों को भी रोजगार दिया जा रहा है। चुटकी लेते हुए उन्होंने चंद्रनाहू शिक्षण समिति के अध्यक्ष चंद्रहास चंद्राकर से कहा कि बड़े बड़े नेता मन के संगवारी रेहे बाबू, पहिली आडिटोरियम के मांग काबर नइ करे।  पीतर पाख के बरा के कमी हे।

इससे पहले मुख्यमंत्री का शहर के कई सामाजिक संगठनों ने जोरदार स्वागत किया। दोपहर ठीक ढाई बजे वे छत्तीसगढ़ स्कूल पहुंचे। उनके साथ राज्य सभा सदस्य छाया चंद्राकर, विधायक व संसदीय सचिव विनोद सेवन लाल चंद्राकर, विधायक व संसदीय सचिव द्वारिकाधीश यादव, विधायक राजा देवेन्द्र बहादुर सिंह, बीज निगम के अध्यक्ष अग्नि चंद्राकर, कुर्मी समाज के प्रदेश अध्यक्ष अश्विनी चंद्राकर, चंद्रनाहू शिक्षण समिति के अध्यक्ष चंद्रहास चंद्राकर, नगर पालिका अध्यक्ष महासमुंद प्रकाश चंद्राकर के अलावा अन्य पदाधिकारी विशेष रूप से मौजूद थे। इससे पहले संसदीय सचिव श्री चंद्राकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के स्वागत के लिए मचेवा हेलीपेड पहुंचे थे। हेलीपेड से कार्यक्रम स्थल तक जगह-जगह मुख्यमंत्री का स्वागत किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here