ट्रांसजेंडरों के लिए यूपी एड्स कंट्रोल सोसाइटी ने ट्रांस हेल्थ सेंटर किया शुरू

0
129

लखनऊ
ट्रांसजेंडरों की स्वास्थ्य संबंधी जरूरतों को पूरा करने के लिए लखनऊ में ट्रांस स्वास्थ्य क्लीनिक शुरू हो गया। इसका उद्घाटन यूपी राज्य एड्स नियंत्रण सोसाइटी की प्रोजेक्ट निदेशक अनीता सी मेश्राम ने किया। यह उत्तर भारत का अपनी तरह का पहला ट्रांस स्वास्थ्य क्लीनिक है। यह क्लीनिक एकीकृत सेवा वितरण केंद्र (इंटीग्रेटेड सर्विस डिलिवरी सेंटर) के रूप में ट्रांसजेंडरों के स्वास्थ्य और गैर स्वास्थ्य जरूरतों को पूरा करेगा।

मेश्राम ने गोमती नगर में आयोजित कार्यक्रम में कहा कि यह क्लीनिक ट्रांसजेडरों के साथ नेटवर्किंग करेगा और सेवा प्रदाताओं की एक शृंखला से जोड़ेगा। इस क्लीनिक के जरिए ट्रांसजेंडरों को एसटीआई, टीबी, हैपेटाइटिस-बी, सी, एचआईवी और गैरसंचारी रोगों की स्क्रीनिंग सेवा दी जाएंगी। जरूरत पड़ने पर रेफरेल सेवाएं व दवाइयां भी उपलब्ध कराई जाएंगी। क्लीनिक में मनोचिकित्सीय परामर्श सेवा और जीवन कौशल शिक्षा की व्यवस्था भी की जा रही है।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में ट्रांसजेंडरों की जनसंख्या पूरे भारत की कुल ट्रांसजेंडर आबादी के एक चौथाई से भी अधिक है। सेंटर का मुख्य उद्देश्य उच्च जोखिम वाले ट्रांसजेंडरों की पहचान करना और एचआईवी रोकथाम व उपचार सेवाएं देना है। इस मौके पर डिप्टी डायरेक्टर जनरल नॉको डॉ. शोभिनी राजन, जॉन्स हॉपकिंस यूनिवर्सिटी से डॉ. सुनील सुहास सोलोमन, वाईआरजी केयर से कविशेर कृष्णन, एल्टन जॉन एड्स फाउंडेशन से थामस ब्रिजडन और ट्रांसजेंडर मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here