वैक्सीन आपूर्ति न होने से टीकाकरण में बाधा, अब तक कई जिलों को नहीं मिली वैक्सीन

0
166

पटना
राज्यभर में चल रहे पशु टीकाकरण अभियान में वैक्सीन की किल्लत हो होने लगी है. दस जिलों में वैक्सीन की आपूर्ति नहीं होने से टीकाकरण अभियान शुरू नहीं हो पाया है. पशुओं में खुरपका – मुंहपका (एचएस- बीक्यू) बीमारी फैलने से रोकने के लिए राज्यभर में टीकाकरण किया जाना है.

1.95 करोड़ पशुओं को टीका देने का लक्ष्य भी प्रभावित हो रहा है. अधिकतर जिलों में जानवरों में पैर और मुंह की बीमारी (एफएमडी) फैलने लगी है. इसका असर दुग्ध उत्पादन पर भी पड़ रहा है.

पशुओं को बीमारी से बचाने के लिए पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग ने 1.95 करोड़ पशुओं का पांच अक्तूबर तक वैक्सीनेशन पूरा कराने का लक्ष्य निर्धारित किया है. 23 सितंबर तक की रिपोर्ट के अनुसार गलघोंटू और लंगड़ी बुखार के नाम से पहचानी जाने वाली इस बीमारी की खात्मे के लिए 5925191 वैक्सीन उपलब्ध कराया जाना है.

28 जिलों में टीकाकरण शुरू हो गया है, लेकिन दस जिलाें भागलपुर, बांका, वैशाली, पूर्वी चंपारण, सीतामढ़ी, शिवहर, मधुबनी, सहरसा, मधेपुरा व सुपौल को वैक्सीन नहीं मिला है. विलियम और बायोमीटरिक कंपनी पर वैक्सीन की आपूर्ति का जिम्मा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here