भारत में अब नहीं आएगी कोरोना की तीसरी लहर नहीं -एम्स के डायरेक्टर का दावा

0
603

नई दिल्ली
 भारत के सबसे बड़े और दुनिया भर में प्रतिष्ठित चिकित्सा संस्थान अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान,नई दिल्ली  के डायरेक्टर डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने दावा किया है कि भारत में कोरोनावायरस खत्म हो गया है।

डॉ गुलेरिया ने कहा कि भारत में तीसरी लहराने की संभावना अब ना के बराबर रह गई है। कोरोनावायरस अब महामारी नहीं रहा बल्कि सिर्फ सामान्य सर्दी-जुकाम और खांसी की बीमारी की तरह रह गया है। उल्लेखनीय है कि सरकारी स्तर पर पहली बार किसी ने तीसरी लहर को लेकर इस प्रकार का बयान दिया है।

डॉक्टर गुलेरिया का बयान उस समय आया है जबकि दक्षिण भारत के कुछ राज्य कोरोनावायरस के कारण काफी परेशान हैं और इसी सप्ताह हिमाचल प्रदेश के स्कूलों में बड़ी संख्या में संक्रमण पाया गया है। हिमाचल प्रदेश के स्कूल 25 सितंबर तक के लिए बंद कर दिए गए हैं।

स्टडी के अनुसार देश में कोरोना के एक्टिव केस अक्तूबर तक 15 हजार के करीब रहेंगे। ऐसा इसलिए क्योंकि तमिलनाडु, तेलंगाना, केरल, कर्नाटक, असम, अरुणाचल समेत पूर्वोत्तर के राज्यों में संक्रमित आते रहेंगे। मणींद्र अग्रवाल लगातार स्टडी के जरिए रिपोर्ट जारी कर सरकार को अलर्ट करते रहे हैं। दूसरी लहर का इनका दावा काफी हद तक सही भी साबित हुआ। उन्होंने अक्तूबर तक अपनी नई प्रिडक्शन रिपोर्ट जारी कर दावा किया कि तीसरी लहर की आशंका लगभग शून्य है। रिपोर्ट के मुताबिक अक्तूबर तक उत्तर प्रदेश, बिहार, दिल्ली, मध्य प्रदेश में कोरोना के एक्टिव केस इकाई अंक तक पहुंच जाएंगे।

टीके में तेजी का मिलेगा फायदा
प्रो. अग्रवाल के मुताबिक लॉकडाउन और वैक्सीनेशन का काफी लाभ मिलता दिख रहा है। दूसरी लहर के बाद अधिकतर लोगों में हर्ड इम्युनिटी बन गई है। वहीं तेजी से चल रहे टीका अभियान का प्रभाव भी महामारी को रोकने में कारगर रहेगा।
पहले ही किया था दावा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here