किसानों का भारत बंद, गाजीपुर-शंभु बॉर्डर जाम

0
133

 नई दिल्ली

कृषि कानूनों के विरोध में किसान संगठनों ने आज भारत बंद बुलाया है. किसान संगठनों का ये भारत बंद सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक चलेगा. दिल्ली की सीमाओं पर पहले से ही हज़ारों किसान डटे हुए हैं, ऐसे में अब भारत बंद बुलाने के कारण दिल्ली, यूपी और आसपास के क्षेत्र में जाम की स्थिति है.

अगर आप दिल्ली, गाजियाबाद, गुरुग्राम, नोएडा या आसपास के इलाके में सफर करने की सोच रहे हैं, तो ऐसा करने से बच सकते हैं क्योंकि कई जगह रूट को डायवर्ट किया गया है या फिर रास्ता ही बंद है.

•    यूपी-गाजीपुर बॉर्डर पर पूरी तरह से ट्रैफिक बंद
•    लालकिले के आसपास रास्ता बंद, छत्ता रेल-सुभाष मार्ग भी बंद
•    दिल्ली-नोएडा के लिए डीएनडी का इस्तेमाल, गाजियाबाद के लिए विकास मार्ग (डायवर्जन)
•    पंडित श्री राम शर्मा मेट्रो स्टेशन की एंट्री-एग्जिट बंद

इन रूट के अलावा भी किसानों के प्रदर्शन का कई जगह असर देखने को मिला है. दिल्ली-अमृतसर हाइवे, दिल्ली-अंबाला, दिल्ली-चंडीगढ़ के रास्तों पर किसानों ने सड़क पर ही जाम लगा दिया है. दिल्ली के गाजीपुर बॉर्डर, सिंघु बॉर्डर, एन-एच 9, एन-एच 24 पर भी किसानों के प्रदर्शन के कारण जाम लगा है.

किसान संगठनों द्वारा सोमवार को हरियाणा के बहादुरगढ़ में रेलवे ट्रैक पर प्रदर्शन किया गया. बिहार के पटना में भी किसानों के समर्थन में राजद के कार्यकर्ता सड़कों पर उतरे हैं.

बता दें कि किसान नेता राकेश टिकैत ने भी लोगों से अपील ही कि शाम 4 बजे तक घरों से बाहर ना निकलें, वरना जाम में फंस सकते हैं. हालांकि राकेश टिकैत ने कहा है कि किसी भी एम्बुलेंस या अन्य किसी जरूरी वाहन को निकलने के लिए रास्ता दिया जाएगा.  

भारत बंद की हवा निकली

 पंजाब, हरियाणा और दिल्ली को छोड़कर अन्य किसी राज्य में व्यापक असर देखने को नहीं मिल रहा है। कांग्रेस ने भारत बंद को समर्थन दिया है, इसलिए कांग्रेसशासित राज्यों जैसे छत्तीसगढ़, राजस्थान में कुछ असर जरूर है। भारत बंद का आह्वान करने वाले राकेश सिंह टिकैत को तगड़ा झटका उस समय लगा जब तय हुआ कि गाजियाबाद इस भारत बंद का हिस्सा नहीं बनेगा।

जानकारी के मुताबिक, गाजियाबाद में भारत बंद को लेकर एक राय नहीं बन सकी है। सोमवार को यहां सभी दुकानें खुली हैं। गाजियाबाद के व्यापारिक संगठनों ने पहले ही साफ कर दिया था कि वे संयुक्त किसान मोर्चा ((Samyukt Kisan Morcha)) के भारत बंद का हिस्सा नहीं बनेंगे। यह बंद सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक रहेगा।

मध्य प्रदेश: यहां बंद का असर नहीं है। भोपाल, इंदौर, ग्वालियर और जबलपुर जैसे शहरों में सुबह से जनजीवन सामान्य है। प्रशासन ने किसी तरह की छुट्टी का ऐलान नहीं किया है। यानी स्कूल, कॉलेज और निजी दफ्तर भी खुले हैं।

राजस्थान-छत्तीसगढ़: कांग्रेस शासित राज्य होने के कारण यहां कुछ असर है। हालांकि अधिकांश हिस्सों में जिदंगी सामान्य है। ट्रैफिक को लेकर भी कोई परेशानी नहीं है।

नई दिल्ली: राजधानी होने के कारण यहां कुछ हिस्सों में बंद का असर है। आम आदमी पार्टी ने भी भारत बंद को समर्थन दिया है। सुरक्षा बढ़ा दी गई है। खासतौर पर हरियाणा से सटी बॉर्डर पर प्रशासन की नजर है। ट्रैफिक को लेकर परेशानी हो सकती है।

गुजरात: बंद का कोई असर नहीं है। सुबह से जनजीवन सामान्य है।

महाराष्ट्र: माना जा रहा है कि यहां किसान विरोध प्रदर्शन कर सकते हैं। इसको देखते हुए सुरक्षा का इंतजाम किए गए हैं। वैसे मायानगरी मुंबई, पुणे समेत बड़े शहरो में कोई असर नहीं है।

इनके अलावा, जम्मू-कश्मीर, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, असम, मणिपुर, मिजोरम और दक्षिण भारतीय राज्यों से भारत बंद के प्रभावी होने की सूचना नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here