दुधवा टाइगर रिजर्व : सड़क के किनारे पड़ा मिला मादा शावक का शव

0
126

बांकेगंज / संसारपुर
दुधवा टाइगर रिजर्व बफरजोन की मैलानी रेंज में सड़क किनारे एक मादा बाघ शावक का शव मिला है। ग्रामीणों ने सड़क किनारे शव को देखकर इसकी सूचना वन विभाग को दी। सूचना मिलते ही वन विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे और बाघ शावक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए आईवीआरआई बरेली भेजा। उधर, बाघ की संदिग्ध मौत और बाघ के शिकार की आशंकाओं को वनाधिकारियों ने खारिज कर दिया है।

दुधवा टाइगर रिजर्व के उत्तर कठिना कंपार्टमेंट तीन और गोला-खुटार हाईवे से महज 15 मीटर दूर जंगल के अंदर रविवार की सुबह करीब आठ बजे ग्रामीणों ने एक बाघ शावक का शव देखकर सूचना रेंजर मैलानी को दी। रेंजर मैलानी केपी सिंह ने मौके पर जाकर शावक के शव को सुरक्षित करते हुए इसकी जानकारी दुधवा टाइगर रिजर्व के फील्ड निदेशक और बफरजोन उपनिदेशक को दी। बाघ शावक का शव मिलने का पता चलते ही एफडी संजय पाठक और डीडी डॉ. अनिल कुमार पटेल समेत कई वनाधिकारी मौके पर पहुंच गए।

उन्होंने घटनास्थल और शव का बारीकी से निरीक्षण किया। बाघ शावक के शव का निरीक्षण करने के बाद एफडी संजय पाठक ने बताया कि मृत बाघ शावक मादा है, जिसकी उम्र डेढ़ से दो साल है। बाघ शावक के सभी अंग सुरक्षित पाए गए हैं। इससे शिकार किए जाने की आशंका नहीं है। हालांकि मादा बाघ शावक के पिछले हिस्से पर मामूली घाव होने और खरोंच के निशान पाए गए हैं, जिससे प्रणय के दौरान या दुर्घटना में घायल होने से बाघ शावक की मृत्यु होने की आशंका जताई जा रही है। कहा कि मौत का सही कारण पोस्टमार्टम के बाद ही पता चल सकेगा। दुधवा टाइगर रिजर्व प्रशासन ने शव को कब्जे में लेकर उसे दुधवा मुख्यालय पलिया भेज दिया है, जहां से उसे पोस्टमार्टम के लिए आईवीआरआई बरेली भेजा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here