दुनिया में मंदी की आहट के बीच भारतीय अर्थव्यवस्था ने पकड़ी रफ्तार

0
66

नई दिल्ली
भारत की अर्थव्यवस्था का आकार बढ़ने के साथ आयात-निर्यात में भी बढ़ोतरी हो रही है। सरकार की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, सितंबर में भारत का व्यापारिक वस्तुओं का निर्यात (Merchandise Export) पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 4.82 प्रतिशत बढ़कर 35.45 बिलियन डॉलर हो गया है। इसके साथ ही समान अवधि में कुल आयात 8.66 प्रतिशत बढ़कर 61.61 बिलियन डॉलर पर पहुंच गया है।
 
आंकड़ों में बताया गया कि इस साल सितंबर में भारत का व्यापारिक घाटा 25.71 बिलियन डॉलर पर पहुंच गया है, जो कि सितंबर 2021 में 22.47 बिलियन डॉलर था। भारत के आयात-निर्यात में वृद्धि ऐसे समय पर हो रही है, जब दुनिया में मंदी की आशंका बनी हुई है और यह भारतीय अर्थव्यवस्था की मजबूती को दिखाता है।
 
21 प्रतिशत बढ़ सकता है निर्यात
भारत का कुल निर्यात (वस्तुओं और सेवाओं) इस वित्त वर्ष की पहली छमाही (अप्रैल- सितंबर 2022) में 382.31 बिलियन डॉलर पहुंचने का अनुमान है और यह पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 21.03 प्रतिशत अधिक है। वहीं, कुल आयात इस वित्त वर्ष की पहली छमाही में पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 37.77 प्रतिशत बढ़कर 469.47 बिलियन डॉलर पहुंच सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here