तेजाब से लड़की की आंखें फोड़ दी, भाई को किया किडनैप

0
139

 पन्ना
 पन्ना जिले में घर से भाग गई एक महिला के परिवार वालों ने पड़ोस में रहने वाली एक लड़की की आंखों में तेजाब डालकर उसे अंधा कर दिया और उसके भाई को किडनैप करके अपने साथ ले गए। लड़की की हालत गंभीर है। उसे रीवा मेडिकल हॉस्पिटल के लिए रेफर किया गया है। अस्पताल में कलेक्टर एवं एसपी पहुंच गए थे। एसपी का कहना है कि बदमाशों ने तेजाब नहीं आई ड्रॉप डाला था। समाचार लिखे जाने तक ना तो आरोपियों को गिरफ्तार किया जा सका था और ना ही कितने लड़के को मुक्त कराया जा सका था।

घर से पूछताछ के बहाने भाई-बहन को उठा ले गए
अस्पताल में भर्ती 20 वर्षीय युवती के मुताबिक, वह अपने भाई के साथ मंगलवार सुबह करीब 8 बजे अपने घर पर थी। इसी दौरान पड़ोसी सुम्मी राजा और गोल्डी राजा आए। आरोपी ये कहकर हम दोनों को घर से ले गए कि उन्हें कुछ पूछताछ करनी है। इसके बाद आरोपी हम दोनों भाई-बहन को सुनसान जगह ले गए, यहां मेरे साथ छेड़खानी की। विरोध करने पर भाई और मेरे साथ मारपीट भी की।

लड़की की आंखें एसिड डाल कर फोड़ दी, लड़के को किडनैप कर ले गए
पीड़िता ने बताया कि इसी दौरान सुम्मी ने मुझे पकड़कर जबरदस्ती मेरी आंखों में एसिड डाल दिया। इसके बाद गोल्डी ने मेरी दोनों आंखों को मसल दिया। मैं दर्द से तड़पती रही। आरोपी मेरे भाई को अपने साथ ले गए। उधर, घटना की सूचना के बाद कलेक्टर संजय मिश्रा और एसपी धर्मराज मीणा अस्पताल पहुंचे और मामले की जानकारी ली। अफसरों ने आरोपियों को जल्द पकड़ने का आश्वासन दिया है।

हमलावरों के घर से महिला भाग गई है
पीड़ित लड़की का कहना है कि जब वह छोटी थी, तभी उसके माता-पिता की मौत हो गई थी। इसके बाद चाचा-चाची ने हम दोनों भाई-बहन का पालन-पोषण किया। लड़की ने पुलिस को बताया कि दोनों आरोपियों के घर से कोई महिला बिना बताए कहीं चली गई है। आरोपियों को शक था कि उसे भगाने में मेरा हाथ है, इसलिए उन्होंने वारदात को अंजाम दिया।

बदमाशों ने एसिड नहीं आई ड्रॉप डाला था: एसपी पन्ना
न्यूज़ एजेंसी ANI को पुलिस अधीक्षक धर्मराज मीणा ने बताया, "तेजाब के द्वारा हमले के बारे में जानकारी नहीं है। बदमाशों ने युवती की ऑख में आई ड्राप डाला था। हमने पीड़िता के साथ मुलाक़ात की। मामले में जांच जारी है।" 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here