16 अक्टूबर को गृहमंत्री शाह सिंधिया के जय विलास पैलेस में भी जाएंगे

0
263

ग्वालियर
 मध्यप्रदेश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (pm narendra modi) एवं गृहमंत्री अमित शाह (home minister amit shah) के दौरे बढ़ गए हैं। इसे अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से जोड़कर भी देखा जा रहा है। यही कारण है कि एक माह में ही मोदी और शाह का यह दूसरा है। अमित शाह 16 अक्टूबर को एक बार फिर मध्यप्रदेश आ रहे हैं। वे इस दौरान ग्वालियर में ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) के जय विलास पैलेस (jai vilas palace) में जाएंगे। उसके बाद भोपाल में भी उनका बड़ा कार्यक्रम होने वाला है।

अमित शाह 16 अक्टूबर को मध्यप्रदेश के दौरे पर रहेंगे। वे सबसे पहले ग्वालियर पहुंचेंगे। इस दौरे की खास बात यह है कि वे केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के बुलावे पर पहली बार जयविलास पैलेस भी जाएंगे। शाह के दौरे को लेकर सिंधिया काफी एक्टिव नजर आ रहे हैं। सिंधिया अभी से महल में मौजूद हैं और खुद मानिटरिंग कर रहे हैं। 400 कमरे वाले जय विलास पैलेस में ही ऐतिहासिक चांदी की ट्रेन रखी हुई है।

सिंधिया का शक्ति प्रदर्शन तो नहीं

अमित शाह ग्वालियर में अत्याधुनिक विमानतल का शिलान्यास करने पहुंच रहे हैं, लेकिन अमित शाह के इस दौरे को सिंधिया के शक्तिप्रदर्शन से भी जोड़ा जा रहा है। राजनीतिक विश्लेषकों का अनुमान है कि अब सिंधिया भाजपा में अपनी लकीर बड़ी करने में जुटे हैं।

सिंधिया के बड़े महमान बनेंगे शाह

अमित शाह के दौरे को लेकर ज्योतिरादित्य सिंधिया तीन दिनों तक ग्वालियर में ही रहेंगे। इस दौरान अमित शाह कई कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे। सबसे खास बात यह है कि अमित शाह सिंधिया के बुलावे पर जयविलास पैलेस भी जाएंगे। अमित शाह सिंधिया के सबसे बड़े मेहमान बनकर आएंगे। वे यहां डेढ़ घंटे रुकेंगे। सिंधिया खुद शाह के दौरे और उनके स्वागत की तैयारियों में जुटे हुए हैं। अमित शाह जिस एयरपोर्ट का शिलान्यास करेंगे, उसका नाम भी विजयाराजे सिंधिया के नाम पर होगा। शाह इस अवसर पर एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे। इसकी तैयारी भी तेज हो गई है।

ग्वालियर में पहला बड़ा कार्यक्रम

जब से सिंधिया भाजपा में आए हैं, ग्वालियर में यह पहला बड़ा कार्यक्रम हो रहा है। वह भी ऐसा कार्यक्रम जिसमें भाजपा का कोई दिग्गज नेता शामिल हो रहा है। राजनीतिक विश्लेषकों की निगाह भी महल पर टिक गई है।

क्या अगला टारगेट ग्वालियर है

इधर, भाजपा में आने के बाद सिंधिया की ग्वालियर में ज्यादा सक्रियता को देखते हुए इसे 2023 से जोड़कर भी देखा जा रहा है। राजनीतिक गलियारों में यह भी माना जा रहा है कि 2024 में लोकसभा का चुनाव सिंधिया ग्वालियर से लड़ सकते हैं। जो भी हो प्रधानमंत्री के दो-दो दौरे के बाद अब अमित शाह के भी दूसरे दौरे पर सभी की निगाह टिक गई है।

जयविलास पैलेस पर एक नजर

    400 कमरे वाला है यह भव्य महल
    यह महल कुल एक करोड़ रुपए में निर्मित किया गया था।
    यहीं पर डाइनिंग टेबल पर चलने वाली चांदी की ट्रेन है।
    यूरोपीय वास्तुकला का खूबसूरत नमूना है यह।
    यह पैलेस सर माइकल फिलोस ने डिजाइन और निर्मित किया था।
    इसी महल में इनडोर स्विमिंग पुल है।
    इसके एक हिस्से में राजमाता सिंधिया ने संग्रहालय बनवाया था।
    तत्कालीन राष्ट्रपति डा. सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने उद्घाटन किया था।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here