कोई भी बच्चा कुपोषित न रहे, इसके लिये लें संकल्प

0
53

भोपाल

चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग ने कहा है कि कोई भी बच्चा कुपोषित न रहे, इसके लिये संकल्प लें। कुपोषित से सुपोषित करने की सबसे बड़ी जिम्मेदारी बच्चे की माँ की होती है। सरकार तो लगातार प्रयास कर कुपोषण को दूर करने में सदैव तत्पर है। उन्होंने कहा कि बच्चे संस्कारी, संयमित, अनुशासित हों और देश के अच्छे नागरिक बनें, देश पर प्राण न्यौछावर करने वाले हों।

मंत्री सारंग भोपाल में आयोजित महिला-बाल विकास के जिला स्तरीय कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बच्चों का शारीरिक एवं मानसिक विकास जरूरी है। हम सबकी जिम्मेदारी है कि बच्चे स्वस्थ हों और अपने हुनर से देश का नाम रोशन करें। सारंग ने कहा कि देश और प्रदेश में कोई भी कुपोषित न हो, इसके लिये सरकार कटिबद्ध है। यह विकास और कल्याण की सरकार है।

मंत्री सारंग ने खण्डवा के पंधाना में कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का वर्चुअली संबोधन सुना। उन्होंने महिला-बाल विकास विभाग की विभिन्न योजनाओं के हित-लाभ वितरित किये। उन्होंने कुपोषित से सामान्य श्रेणी में आये बच्चों की माताओं को पोषण अधिकार सूचना-पत्र दिये। मातृ वंदना योजना के हितग्राहियों को राशि भुगतान का प्रमाण-पत्र और लाड़ली लक्ष्मियों को छात्रवृत्ति भुगतान के प्रमाण-पत्र भी वितरित किये। कार्यक्रम स्थल पर लगाई गई पोषण प्रदर्शनी का अवलोकन किया। सारंग ने कन्या-पूजन कर उनके पैर पखारे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here