होशंगाबाद बुजुर्ग दंपती की हत्या का खुलासा,5 आरोपियों को गिरफ्तार किया

0
151

होशंगाबाद

होशंगाबाद में आदिवासी दंपती की बेरहमी से हत्या मामले में 5 दिन बाद बड़ा खुलासा हुआ है। दोनों की हत्या जादू-टोने के शक में की गई थी। आरोपियों के घर में दो मौत हुई थी और अन्य सदस्य बीमार हैं। उन्हें शक था कि पति-पत्नी के जादू-टोने की वजह से ऐसा हुआ है। इसलिए दोनों पर तलवार, कुल्हाड़ी और सरिए से हमला कर मौत के घाट उतार दिया। पुलिस ने इस मामले में 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

वारदात जिले के केसला से 35 किमी दूर पिपरिया खुर्द की है। एसपी डॉ. गुरकरन सिंह ने बताया कि बुजुर्ग आदिवासी पन्नालाल और उसकी पत्नी कस्तूरीबाई झाड़फूंक करते थे। पड़ोस में रहने वाले पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इनमें दो सगे भाई हैं और दो आरोपी काका-भतीजे और एक दोस्त है। आरोपी करन और आनंद ने बताया कि कुछ समय पहले उनके मां-पिता की मृत्यु हो गई थी। घर में काका अभी बीमार हैं। आरोपी भैयालाल, पूनम सिंह ने परिवार में कुछ लोग बीमार हैं। आरोपियों ने कहा कि पन्नालाल और कस्तूरीबाई जादू-टोना करते थे। जिससे हमारे परिवार में मृत्यु हुई और कुछ लोग बीमार हैं।

23 सितंबर की रात का पन्नालाल कलमे (62) और उसकी पत्नी कस्तूरीबाई (55) घर पर अकेली थी। दंपती के दो बेटे शेरसिंह कलमे और लालसिंह कलमे मजदूरी के लिए आंध्रप्रदेश में रहते हैं। बेटा रायसिंह अपनी पत्नी सीमा बाई के साथ साढू भाई के घर मुंडन कार्यक्रम में शामिल होने 23 सितंबर को शाहपुर के हांडीपानी गांव गया था। इसी दौरान आरोपियों ने तलवार, कुल्हाड़ी, सरिया और लकड़ी लेकर पहुंचे। पहले आंगन में पन्नालाल पर हमला कर मारा। फिर कस्तूरीबाई की घर के पास हत्या की। हरदा के पास सेमलपुरा के जंगल से सोमवार रात पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार किया। पांचवें आरोपी को पिपरिया खुर्द से ही गिरफ्तार किया।

गांव से थे लापता, रिश्तेदारों पर पुलिस ने रखी नजर
प्रशिक्षु डीएसपी उइके ने बताया 24 सितंबर की शाम हत्या की जानकारी मिलने के बाद गांव में मोहल्ले के लोगों पूछताछ की। परिवार के सदस्यों की जानकारी ली। गांव के पांच लोग लापता थे। पांचों पर शक हुआ। उनके नाते-रिश्तेदारों पर नजर रखी गई। सोमवार को सेमलपुरा गांव के जंगल में होने की छिपे होने की जानकारी मिली। जिन्हें पकड़कर हत्या के बारे में पूछताछ की। आरोपियों ने हत्या करना स्वीकारा।

अभी ये आरोपी गिरफ्तार
करन सिंह पुत्र बुधसिंह लाविस्कर (20), आनंद सिंह पुत्र बुधसिंह लाविस्कर (20), भैयालाल पुत्र खुशीलाल लाविस्कर (45), बबलू उर्फ बलवान उर्फ बनवंतसिंह लाविस्कर(20), पूनमसिंह पुत्र अमरलाल लाविस्कर (20) सभी निवासी पिपरिया खुर्द है। करन सिंह और आनंद दोनों सगे भाई हैं। भैयालाल का पूनम भतीजा है। बबलू करन का दोस्त है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here